कान दर्द में राहत के लिए आजमाएं ये घरेलू उपाय, मिलेगा आराम

Read Time:2 Minute, 43 Second

लहसुन की कली और तुलसी कान दर्द में फायदेमंद

Rashmi Singh 9 October 2022

कान में दर्द होना एक आम समस्या है। सामान्य रूप से कान में दर्द किसी संक्रमण या जुकाम के कारण होता है लेकिन कभी-कभी कुछ अन्य कारणों से भी कान दर्द की समस्या हो जाती है।
इसके पीछे कई अलग-अलग कारण हो सकते हैं। जैसे कान के भीतर गंदगी जमा होना, सूजन या संक्रमण की समस्या भी दर्द का कारण हो सकता है। इंफेक्शन स्विमिंग, हेडफोन लगाने, कॉटन या उंगली डालने पर कान में बाहरी तरफ इंफेक्शन हो सकता है

कान दर्द के घरेलू उपाय-:

कान दर्द में प्याज का रस राहत देता है। एक चम्मच प्याज के रस को गर्म कर लें और गुनगुना होने पर 2-3 बूंद कान में डालें। ऐसा करने से आराम मिलेगा।
लहसुन और तेल
लहसुन की 5-6 कली मीठे तेल में डालकर पका लें। फिर हल्का गुनगुना होने के बाद इस तेल को कान में 2-3 बूंद डाल लें। इससे कान में होने वाले दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है।

तुलसी-:

तुलसी को औषधीय गुणों से भरपूर माना जाता है।कान के दर्द से राहत दिलाने के लिए तुलसी के पत्तों का उपयोग करना भी काफी लाभदायक हो सकता है। तुलसी के पत्तों के निचोड़ कर उसकी कुछ बूंदे कान में डाल दें। ऐसा करने से दर्द में आराम मिल सकता है। तुलसी, दर्द और संक्रमण को कम करने के लिए उपयोगी मानी जाती है। तुलसी को एंटी-बायोटिक, एंटी-इंफ्लामेटरी और एंटी-फंगल गुणों के लिए जाना जाता है, ऐसे में सूजन और दर्द से राहत दिलाने में इसके लाभ हो सकते हैं।
कान दर्द में सबसे सेफ तरीका है कि कान में ठंडा और गर्म सिकाई करें. ऐसा करने से  कान में दर्द की समस्या को दूर किया जा सकता है

यह जानकारी आयुर्वेदिक नुस्खों के आधार पर लिखी गई है। समाचार निर्देश इनके सफल होने या इसकी सत्यता की पुष्टि नहीं करता है। इनके इस्तेमाल से पहले चिकित्सक का परामर्श जरूर लें

Happy
Happy
0 %
Sad
Sad
0 %
Excited
Excited
0 %
Sleepy
Sleepy
0 %
Angry
Angry
0 %
Surprise
Surprise
0 %
1474590cookie-checkकान दर्द में राहत के लिए आजमाएं ये घरेलू उपाय, मिलेगा आराम
This post has been liked time(s)

Please rate this

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post कान दर्द में राहत के लिए आजमाएं ये घरेलू उपाय, मिलेगा आराम
Next post Signs of glaucoma risk in Kids