Classified Advertisement Rates

  • अब तक सहज पंजाबी व्याकरण और साहित्य किताब के आठ संस्करण छप चुके हैं
  • भाटिया आश्रम सूरतगढ़ के प्रवीण कुमार भाटिया ने किया विमोचन

रामकरण प्रजापति सूरतगढ़ – रीट अध्यापक भर्ती और पात्रता परीक्षा 2022 हेतु पंजाबी विषय के लिए “सहज रीट पंजाबी व्याकरण और साहित्य” प्रैक्टिस सेट का विमोचन भाटिया आश्रम के मार्गदर्शक प्रवीण भाटिया और इस पुस्तक के लेखक गुरसेवक सिंह और गुरमुख सिंह (खरलिया) के द्वारा किया गया। यह सहज पंजाबी किताब का आठवां संस्करण था। इससे पहले पिछले माह ही रीट मुख्य सिलेबस के आधार पर सहज पंजाबी किताब का सातवां संस्करण बाजार मैं चल रहा है,जो बच्चों के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक सिद्ध हो रहा है।

गत वर्ष सहज पंजाबी व्याकरण और साहित्य किताब को समर्पण फाउंडेशन द्वारा बेस्ट पंजाबी किताब का अवार्ड प्राप्त हुआ।जो एक बहुत ही बड़ी उपलब्धि थी।

मूलत: हनुमानगढ़ जिले के पीलीबंगा तहसील के गांव–(लिखमीसर–खरलीया) निवासी दर्शन सिंह के दोनो पुत्र गुरसेवक और गुरमुख सिंह पिछले कई वर्षों से पंजाबी भाषा की निरंतर सेवा कर रहे हैं।

गुरसेवक सिंह वर्तमान में 30 (एपीडी) अनूपगढ़ में व्याख्याता के पद पर और गुरमुख सिंह भाटिया आश्रम सूरतगढ़ में अपनी सेवाएं दे रहे हैं। गुरमुख सिंह पंजाबी भाषा की लोकप्रिय डिग्री ज्ञानी को पंजाबी यूनिवर्सिटी पटियाला से प्राप्त कर चुके हैं। गुरसेवक सिंह और गुरमुख सिंह ने बताया कि प्रैक्टिस सेट को तैयार करने का मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों को मुख्य परीक्षा से पूर्व मुख्य पेपर की तरह अच्छे से अभ्यास करवाना है क्योंकि बहुत सारे विद्यार्थी गैर पंजाबी भाषा के भी रीट भर्ती परीक्षा में पंजाबी भाषा का चयन करके परीक्षा में उतर रहे हैं। सहज पंजाबी व्याकरण और साहित्य किताब और प्रैक्टिस सेट दोनों ही विद्यार्थियों के लिए बहुत ही ज्यादा लाभदायक सिद्ध होंगे। पूनम फाउंडेशन ट्रस्ट के मुखिया रामकरण पूनम प्रजापति ने भी अपनी शुभकामनाएं प्रेषित की।

By admin

Leave a Reply

Your email address will not be published.